full form of ias- ias ka full form kya hota hai
Informational Avnish Singh  

आईएएस का फुल फॉर्म क्या है – Full Form of IAS

IAS का Full Form क्या होता है ? आपने IAS के बारे में खूब सुना होगा और मुझे लगता है इसी वजह से आपने गूगल पर IAS का Full Form के बारे में सर्च किया है. IAS बनना हर देशवासी का सपना होता है, ना जाने कितने ही बच्चे सालों IAS बनने की तैयारी में लगे रहते है.

हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको आईएएस का फुल फॉर्म या कहे Full Form Of IAS तो बतायेगे ही लेकिन इसके अलावा आईएएस की संपूर्ण जानकरी हम आपको मुहैया कराएंगे। सबसे पहले हम आईएएस के फुल फॉर्म के बारे में जानेगे उसके बाद आईएएस कैसे बनते है उस बारे में बात करेंगे, इन सब के बाद आईएएस के इतिहास के बारे में बात करेंगे और इसके अलावा हम ये भी जानगे की पीछे ५ वर्षो में आईएएस के टोपर कौन रहे है |

आईएएस का फुल फॉर्म क्या है

IAS का फुल फॉर्म होता है “Indian Administrative Service“. IAS एक ऐसी सरकारी नौकरी है जिसे पाने की उम्मीद लाखो बच्चे अपने मन में रखे बैठे है. रात दिन मन लगाकर पढ़ने के बावजूद विद्यार्थी आईएएस का एग्जाम नहीं क्लियर कर पाते है. इस बात से आप पता लगा सकते है की यह आईएएस की परीक्षा कितनी कठिन होती है.आईएएस की परीक्षा दुनिया में सबसे कठिन मानी जाने वाली परीक्षाओ में से एक है.

आईएएस की परीक्षा कठिन तो है लेकिन इस परीक्षा को पास करने के बाद आप एक पुरे शहर के कलेक्टर बन जाते है. आईएएस अधिकारी को कलेक्टर अथवा डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट भी कहते है. मेरे ख्याल से आपने ये कलेक्टर व डिस्ट्रिक्ट मेजिस्ट्रेट शब्द जरूर सुने होंगे। जब भी आप किसी को कोई काम करने के लिए कहते है तब सामने वाला व्यक्ति आपको जवाब दे देता है की तुम कही के कलेक्टर हो क्या। इससे आप पता लगा सकते है की अगर व्यक्ति आईएएस बन जाये तो उसके पास कितनी पावर आ जाती है।

चलिए तो अब आपने आईएएस का फुल फॉर्म या Full form of IAS के बारे में तो जान लिया अब बात करते है की कैसे आप आईएएस अधिकारी बन सकते है।

आईएएस कैसे बनते है

आईएएस बनने के लिए आपको UPSC की परीक्षा पास करनी पड़ती है | UPSC की परीक्षा दुनिया की सबसे कठिन लिखित परीक्षाओ में से एक है | UPSC की परीक्षा तीन चरणों में ली जाती है।

१. Preliminary Exam

२. Main Exam

३. Interview

IAS बनने के लिए प्रिलिम्स परीक्षा को पास करने के बाद आपको मुख्य परीक्षा यानि Mains क्लियर करना होगा। इसके बाद इंटरव्यू लिया जायेगा और आखिर में (mains +Interview ) चरणों के अंको को जोड़कर Cut-Off जारी किया जाता है। यदि आप Cut-Off से ज्यादा अंक प्राप्त करते है तो आपको चुने हुए पद के अनुसार नौकरी दे दी जाएगी।

अब थोड़ा डिटेल में जानते है आईएएस के एग्जाम के बारे में ,

IAS प्रिलिम्स परीक्षा का पैटर्न

पेपर का नाम कुल प्रश्न कुल अंक
सामान्य अध्ययन पेपर -१ १०० २००
सामान्य अध्ययन पेपर -२ ८० २००
IAS Prelims Pattern

IAS मुख्य परीक्षा १७५० अंको की होती है और इंटरव्यू २७५ अंको का होता है। इस प्रकार (१७५०+२७५ ) यानि कुल मिलाकर २०२५ मार्क्स का एग्जाम लिया जाता है और इसी के आधार पर ही cut-off निर्धारित किया जाता है। Prelims केवल qualify करने के लिए ली जाती है उसके मार्क्स मेरिट लिस्ट बनाने के लिए नहीं जोड़े जाते है।

आईएएस का फुल फॉर्म हिंदी में ( Full Form Of IAS in Hindi )

IAS का फुल फॉर्म हिंदी में “ भारतीय प्रशासनिक सेवा ” होता है और इंग्लिश में इसे “Indian Administrative Service” कहा जाता है। जैसा की हम पहले जान चुके है की आईएएस की नौकरी लेने के लिए आपको UPSC की परीक्षा पास करनी होगी और अब हम जानेगे की आईएएस बनने के लिए आपकी उम्र क्या होनी चाहिए , आईएएस बनने के लिए आपको कितने नंबर लाने होंगे , पिछले पांच वर्षो के UPSC toppers.

आईएएस बनने के लिए योग्यता ( Eligibility for IAS )

जो भी व्यक्ति आईएएस के पद के लिए पेपर दे रहा है वह भारत का नागरिक होना चाहिए।

आईएएस का पेपर देने के लिए आपके पास किसी भी फील्ड से ग्रेजुएशन डिग्री होनी चाहिए। केवल १० या १२ पास व्यक्ति इस पेपर को नहीं दे सकते है , ग्रेजुएशन होना अनिवार्य होता है।

जो परीक्षार्थी अभी अपने ग्रेजुएशन के आखिरी वर्ष में है वे भी इस परीक्षा में बैठ सकते है लेकिन परीक्षा पास करने के बाद आपको जोइनिंग से पहले अपनी डिग्री दिखानी होगी अन्यथा आपकी उम्मीदवारी रद्द कर दी जाएगी भले ही आपने सारे चरण क्यों न क्लियर कर लिए हो।

इस परीक्षा के लिए न्यूनतम आयु २१ वर्ष है। सामान्य वर्ग के लिए ३२ वर्ष , ओबीसी वर्ग के लिए ३५, SC और ST वर्ग के लिए आयु सीमा ३७ वर्ष होती है। विकलांग श्रेणी के लोगो को ज्यादा छूट दी जाती है।

चलिए देखते है पिछले पांच वर्षो से हर साल कितने विद्यार्थी आईएएस की परीक्षा देते है।

PNR का फुल फॉर्म जानने के लिए यहाँ क्लिक करे

आईएएस की परीक्षा देने वालो की संख्या

हर साल ८ लाख से ११ लाख लोग आईएएस की परीक्षा देते है और उनमे से केवल ७००-८०० लोगो को ही नौकरी पाने का स्वाद मिलता है। नीचे दिए गए टेबल में हमने पिछले पांच वर्षो में प्रिलिमनरी एग्जाम देने वाले परीक्षार्थियों के आकड़े लिखे है।

Year
20194,93,972
20185,00,484
20174,62,848
20164,59,659
20154,65,882
Full Form Of IAS – IAS Last 5 Years Stats

हमने २०२० के आकड़े नहीं लिखे है क्युकी कोरोना वायरस महामारी की वजह से लोगो की उपस्थिति कम हो गयी थी। परीक्षार्थी ट्रांसपोर्टेशन की असुविधाओ की वजह से एवं बीमारी के डर से २०२० में परीक्षा नहीं दे पाए और उस वर्ष केवल ५०% लोगो ने ही एग्जाम दिए।

आईएएस से जुड़े कुछ सवाल ( Full form of IAS)

आईएएस की सैलरी कितनी होती है ?

एक आईएएस अफसर को काफी अच्छी सैलरी दी जाती है। एक नए जोईन हुए आईएएस अफसर की सैलरी ५६,१०० रुपये महीना से शुरू होती है इसके अलावा भी उन्हें ट्रैवेलिंग अलाउंस , महगाई भत्ता , पेट्रोल , गाडी , फर्नीचर , घर अथवा घर का भाड़ा इत्यादि दिया जाता है। प्रमोशन होने पर आईएएस अफसर की सैलरी बढ़ती रहती है और कैबिनेट सचिव जो सर्वोच्च पद होता है वहा तक पहुंचने पर उनकी सैलरी २,५०,००० रुपये प्रति माह हो जाती है |

आईएएस में कितने पोस्ट होते है

वैसे तो हर साल UPSC ” सिविल सर्विस” के लिए ७००-८०० पोस्ट्स निकालता है, लेकिन यह संख्या फिक्स नहीं होती। हर वर्ष वेकन्सी की संख्या बदलती है | सिविल सर्विस एग्जाम में आईएएस के केवल ३०-४० पद ही होते है अर्थात हर साल केवल टॉप ३० या ४० लोग ही आईएएस की नौकरी ले पाते है। बाकी के कैंडिडेट्स सिविल सर्विसेस की दूसरी पोस्ट्स पर विराजमान हो जाते है। इसलिए आईएएस बनना इतना आसान काम नहीं है।

WiFi का फुल फॉर्म जानने के लिए यहाँ क्लिक करे।

अगर आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आयी है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले। एक पोस्ट को लिखने में काफी मेहनत करनी पड़ती है आपकी कमैंट्स हमारे लिए एक मोटिवेशन का काम करती है इसलिए कमेंट जरूर करे।

1 Comment

  1. […] Also Read: IAS kaise Bane […]

Leave A Comment