क्या सच मे १ सितम्बर से स्कूल और कॉलेज खुल जायेगे ?

school kab khulege

कोविद -19 महामारी के कारण स्कूल लंबे समय से बंद हैं। इस बीच, सोशल मीडिया पर एक समाचार पत्र में प्रकाशित खबर को साझा किया जा रहा है, जिसमें एक शीर्षक है, 1 सितंबर से पूरे देश में स्कूल और कॉलेज खोले जाएंगे। कुछ लोग इस खबर को सच मान रहे हैं, जबकि कुछ इसकी सच्चाई को लेकर भ्रमित हैं।

हाल के एक सर्वेक्षण में, यह पाया गया है कि देश के अधिकांश माता-पिता नहीं चाहते हैं कि स्कूल और कॉलेज फिलहाल खोले जाएं। सर्वेक्षण में केवल 33 प्रतिशत माता-पिता 1 सितंबर से स्कूल खोलने के लिए सहमत हुए हैं।

इंडिया टुडे के एंटी-फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने भ्रामक होने का दावा किया। भारत सरकार के सूचना विभाग, प्रेस सूचना ब्यूरो (PIB) के अनुसार, सरकार ने अभी तक स्कूल और कॉलेज खोलने के मामले में कोई निर्णय नहीं लिया है।

कई यूजर्स ने फेसबुक पर शेयर किया है। इस पोस्ट का संग्रहीत संस्करण यहाँ देखा जा सकता है।

दावा जांच

सोशल मीडिया पर साझा किए जा रहे अखबार की कटिंग को बारीकी से देखने के बाद, इसके ऊपरी हिस्से पर ‘एजुकेशनल न्यूज’ और ‘एजुकेशन सर्वोपरि है।’ जब हमने इन दोनों कीवर्ड्स को खोजा, तो हमें एक वेबसाइट मिली, जिसमें educationnews.net कहा गया, जिसमें ‘एजुकेशनल न्यूज’ अखबार का ई-पेपर मिला। इस अखबार के पन्नों के डिजाइन का वायरल अखबार की कटिंग से बारीकी से मिलान होता है। समाचार पत्र के पहले पृष्ठ के शीर्ष पर, ‘एजुकेशनल न्यूज ’और par एजुकेशन सर्वोपरि’ लिखा हुआ है।

News एजुकेशनल न्यूज ’के फेसबुक पेज पर हमें ठीक उसी अखबार की कटिंग मिली, जिसे सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। समाचार पत्र की कटिंग जो वायरल हो रही है और The एजुकेशनल न्यूज ’के फेसबुक पेज पर अखबार की कटिंग दोनों की छपाई की तारीख 9 अगस्त 2020 है। इसका संग्रहीत संस्करण यहां देखा जा सकता है।

यह खबर दैनिक बिहार वेबसाइट द्वारा भी प्रकाशित की गई है। इसके अलावा प्रभात खबर ने भी news एजुकेशनल न्यूज ’की खबरों के समान ही खबरें प्रकाशित की हैं। इसका आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पीआईबी ने 11 अगस्त को एक ट्वीट के जरिए इस दावे का खंडन किया। PIB ने अपने ट्वीट में लिखा, “एक अखबार ने दावा किया है कि सरकार चरणबद्ध तरीके से 1 सितंबर से 14 नवंबर तक स्कूल खोलने जा रही है। सरकार द्वारा अभी तक ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है।”

जुलाई के महीने में, सरकार ने अनलॉक 3 से संबंधित निर्देश जारी किए, यह कहा गया कि स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान 31 अगस्त तक बंद रहेंगे।

केंद्र सरकार ने भी जुलाई में देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा था कि वे अभिभावकों से सलाह लें और बताएं कि स्कूल कब खोले जाने चाहिए।

सरकार पर कई मीडिया रिपोर्ट्स आई हैं जो स्कूलों को खोलने की योजना बना रही हैं। यह आशा की गई है कि सितंबर के महीने में स्कूल खोले जा सकते हैं।

News18 की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 10 अगस्त को मानव संसाधन और विकास मंत्रालय की संसदीय समिति की बैठक हुई थी, जिसमें स्कूल-कॉलेज खोलने के बारे में चर्चा हुई थी।

इस बैठक में, मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि फिलहाल स्कूल-कॉलेज खोलने का कोई निर्णय नहीं लिया गया है। महामारी की स्थिति को देखते हुए, राज्यों को स्कूल-कॉलेज खोलने का निर्णय लेने की अनुमति दी जा सकती है।

हमें ऐसी कोई मीडिया रिपोर्ट नहीं मिली, जो कह रही हो कि देश के सभी स्कूल और कॉलेज 1 सितंबर को खोले जाएंगे।

कुल मिलाकर, यह स्पष्ट है कि सोशल मीडिया पर किया जा रहा दावा भ्रामक है। सरकार इस बात पर मंथन कर रही है कि स्कूल कब और कैसे खुलें, लेकिन अभी तक इस मामले में कोई फैसला नहीं हुआ है।

By Avnish Singh

Hii. I am Avnish Singh, By education i am a mechanical engineer and and a passionate blogger and freelancer. In Mera Up Bihar I write interesting articles which provides useful information to my readers.

Leave a Reply

Your email address will not be published.